Tuesday, 23 August 2016

प्यार, love saaruk khan

शाह रुख खान ने तो फिल्मों में प्यार की हद ही कर दी:
कुछ-कुछ होता है: दोस्त से प्यार
मोहब्बतें: प्रिंसिपल की बेटी से प्यार
कल हो न हो: पडोसी की बेटी से प्यार
बाज़ीगर: दुश्मन की बेटी से प्यार
परदेस: दोस्त की मंगेतर से प्यार
दिल से: आतंकवादी से प्यार
मैं हूँ ना: टीचर से प्यार
चेन्नई एक्सप्रेस: डॉन की बेटी से प्यार
कभी अलविदा न कहना: दूसरों की बीवी से प्यार
और रब ने बना दी जोड़ी में तो गज़ब ही कर दिया
अपनी ही बीवी से प्यार।

No comments:

Post a Comment