Tuesday, 23 August 2016

मन की बात

मुझे आज-कल ऐसा लगने लगा है जैसे मैं आपकी मन की बातें जानने लगा हूँ।
चलिए इस का सबूत देता हूँ।
1. आप इस समय मेरा यह स्टेटस पढ़ रहे हैं।
2. आप नेकदिल इंसान हैं और आप तौर पर सब को खुश देखना चाहते हैं।
3. होंठों को अलग किये बिना आप 'पापा' नहीं बोल सकते।
4. आपने अभी-अभी 'पापा' कह कर देखा।
6. ऐसा करने पर आपके चेहरे पर मुस्कान आई।
7. अरे आपने नंबर 5 तो पढ़ा ही नहीं।
8. अब आप फिर से नंबर 5 पर गए, पर वो तो है ही नहीं।
9. इस बात पर फिर से हँसी छूटी, यानि कि आप छोटी-छोटी बातों पर हँस सकते हैं। मतलब आप एक नेकदिल इंसान हैं।
10. अब आप सोच रहे हैं कि यह हँसने-हँसाने का सिलसिला जारी रखा जाये और यह किसी और के साथ भी शेयर किया जाये।
तो फिर इतना क्या सोचना कीजिये शेयर और बाँटिये खुशियां।

No comments:

Post a Comment